Sat. Jul 2nd, 2022
Vidhwa Ma Ki Chudai

Vidhwa Ma Ki Chudai : दोस्तों कभी कभी ज़िंदगी में कुछ ऐसी बातें हो जाती है जिसका हल ढूंढना मुश्किल हो जाता है। मेरे साथ भी ऐसा ही हुआ अब मैं समझ नहीं पा रही हु आखिर इसका क्या उपाय है क्या करूँ मैं? मैं अपनी कहानी आपको बताती हूँ मेरे साथ ऐसा कैसे हुआ। आपके मदद की उम्मीद करती हूँ। आप जरूर कमेंट में हेल्प करें।

मेरा नाम राखी है और उम्र 40 की है मेरा बेटा 22 साल का है। पिछले साल मेरे पति का देहांत हो गया आगरा एक्सप्रेसवे पर तब से मैं माँ बेटा एक दूसरे का सहारा लेकर ही जी रहे हैं। मैं दिल्ली के तुगलकाबाद में रहती हूँ। जब उनका देहांत हुआ था तभी से हम माँ बेटा एक ही पलंग पर सोते थे। क्यों की दोनों को ही डर लगता था। पर एक दिन की बात है जो मेरे साथ हुआ या यूं कहिये हम दोनों ने जो किया वो लगातार चलता रहा। और इसका नतीजा क्या निकला वो आपको पता है।

1 जनवरी 2020 का दिन था। शर्दियाँ कड़ाके की पड़ रही थी। हम दोनों ही उनके बारे में बात कर रहे थे तभी मुझे बहुत रोना आ गया। मैं रोने लगी तभी मेरा बेटा मुझे गले लगा लिया और मेरी पीठ को सहलाने लगा। पर उसका सहलाना धीरे धीरे अलग ही दिशा में हो गया क्यों की उसका लौड़ा खड़ा होने लगा था

और मेरे जांघों को छू रहा था। मैं समझ गई। और अलग हो गई पर आँचल मेरा उसके बटन से फंस गया था और जैसे हटी मैं आँचल उधर ही रह गया और बॉस से बाहर निकली चूचियां और नाभि को देखकर मेरा बेटा पागल हो गया।

Vidhwa Ma Ki Chudai

वो मेरे से फिर से लिपट गया अब वो मुझे अपनी तरफ खींच कर अपने छाती से सटा लिया और कहने लगा माँ अगर चाहती हो मैं खुश रहूं और आपका सहारा बनु तो मुझे हेल्प करो मैं पागल हो रहा हूँ। मुझे पता है माँ का रिश्ता पाक होता है पर आज मैं इसके लिए माफ़ी चाहता हूँ मुझे आपको चोदना है। मैं उसका मुँह देख रही थी। मुझे लग रहा था ये गलत है पर मैं अपने बेटे को भी खोना नहीं चाहती थी। पर ऐसा करने से भी कतरा रही थी।

मैंने कहा ठहर अगर ऐसी ही बात है तो रुक। मैंने तुरंत ही उसको १००० रूपये दिए और कहा जा कोई अच्छा सा व्हिस्की ले आओ और २ सिगरेट। वो तुरंत ही स्कूटी लेकर चला गया और वैसा ही किया। दुकाने बंद थी उस दिन पर वो अपने दोस्त के यहाँ से एक बोतल व्हिस्की ले के आ गया।

मैं तब तक एग फ्राई की और बादाम निकाले, वो आकर बोला माँ क्या आप पहले भी पीती थी मैंने कहा हां पीती थी कभी कभी जब तुम्हारे पापा ज्यादा खुश होते थे तो मुझे भी पिलाते थे। ये कहानी आप नॉनवेज स्टोरी डॉट कॉम पर पढ़ रहे हैं।

मैं अपने बेटे के साथ शराब पि और फिर अपनी पुराने दिनों की बात की उस दिन मैं पहली बार बेटे को दोस्त के तरह समझी और सब बात बताई। नशे में अपने बेटे को पास बुलाई और फिर उसके होठ को चूसने लगी। वो भी मेरे होठ को चूसने लगा। तभी ऐसा लगा एक एक पेग और हो जाये उसके बाद जो होगा करेंगे।

एक एक पेग और ली और मैं अपना ब्लाउज खोल दी साड़ी और पेटीकोट भी उतार दी। अब मैं पेंटी और ब्रा पर आ गई और बेटे से बोली सिगरेट ला और फिर सिगरेट जलाई। टेबल पर दोनों पैर रखी और सोफे पर आराम से बैठ गई।

बेटा बोला माँ आज आप सनी लिओनी लग रही हो, आप भी वैसे ही स्टाइल में हो जैसे वो रहती है चुदाई के पहले। मैंने कहा ठीक है देखते है सनी लिओनी को जैसे गोरा पेलता है वैसे तुम पेल सकते हो या नहीं। मेरा बेटा को ये बात लगा और उठकर खड़ा हो गया।

अपना कपडे उतार फेंके और अपना मोटा लौड़ा मेरे मुँह में डाल दिया और बोला ले पहले तू सनी लिओनी के तरफ चूस मेरे लौड़े को और वो मेरे मुँह में अपना लौड़ा पेलने लगा. मैं भी कहा काम थी ब्रा का हुक खोली पेंटी उतार और उसका लौड़ा चूसने लगी। वो आह आह करने लगा मेरी चूत भी गीली होने लगी।

बाहर डीजे बज रहा था लोग नए साल का जश्न मना रहा था और मैं भी अलग ही तरीके से सेलिब्रेशन कर रही थी। फिर मैं बेड पर चली गई वो बन्दर की तरह कुछ पर चढ़ गया मेरे ऊपर और मेरी चूचियों को पिने लगा मेरे होठ चूसने लगे और मेरी छूट में ऊँगली करने लगा. फिर बोला नहीं माँ अब नहीं मुझे चोदना है और फिर वो लौड़ा निकाल कर चूत में डाल दिया और जोर जोर से धक्के देने लगा.

मैं भी मंजे लेने लगी उसके छाती को सहलाने लगी बिच बिच में उसके होठ को चूस रही थी और वो दे दना दन चूत में लौड़ा दिए जा रहा था। फिर मैंने उसको निचे की और मैं ऊपर चढ़ गई और अपने हाथ से उसका लौड़ा पकड़ कर अपने चूत में ले ली और ऊपर उछल उछल कर लेने लगी। मुँह से सिर्फ आह आह आह की आवाज निकल रही थी।

करीब ४० मिनट में वो शांत हो गया पर मैं अभी प्यासी थी। पर करती क्या उसका वीर्य निकल चुका था। अब इन्तजार की। और करीब एक घंटे के बाद फिर से गांड मरवाई वो मुझे कभी चूत में कभी गांड में अपने लौड़े को खूब पेला।

रात भर यह चलता रहा और फिर क्या बताउँ आज तक चल ही रहा है। हम दोनों बहुत खुश हैं घर का माल घर में मेरे बेटे का यही कहना है पर एक बात जो गलत हो गई इस बार मेरा पीरियड नही आया किट लाकर चेक की तो रिजल्ट पॉजिटिव है।

मैं थोड़ी डरी हुई हूँ क्या करूँ समझ नहीं आ रहा है। इसलिए आज मैंने नॉनवेज स्टोरी डॉट कॉम पर कहानी लेकर आई ताकि आप मेरी बात को पहले समझें फिर कमेंट करें आपके कमेंट का इंतज़ार कर रही हूँ।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.